Sale!

3,850.00

Delivery: Within 5 – 7 Business Days (All over India)
Order on Call: +91-7065310431
Energization: Free Energizaton by Acharya ji ( फ्री अभिमन्त्रण पंडित जी द्वारा)

Specification

आकार: अंडाकार / गोलाकार
Certification: GJL&I, New Delhi.
भार (कैरेट) : 6 से 10 कैरेट के बीच
Ring Size: Adjustable (Free Size)

सुलेमानी हकीक को भाग्य जगानेवाला पत्थर कहा जाता है। यह दुनिया का एक ऐसा पत्थर है जिसे जितनी श्रद्धा से हिन्दू धारण करते है, उतनी ही श्रद्धा से मुसलमान भी धारण करते है। इस पत्थर से बनी अंगूठी धारण करने से जातक के अंदर सकारात्मक ऊर्जा उत्पन्न होती है। शनि, राहू और केतु के दोषों को दूर करने के लिए इस अंगूठी को अवश्य धारण करना चाहिए।

Benefits of Sulemani Hakik (Agate):
सुलेमानी हकीक अंगूठी धारण करने से जातक अपने लक्ष्य के प्रति ज्यादा फोकस ओर समर्पित होता है। जिससे निर्णय क्षमता में भी सुधार होता है।
इस अंगूठी के प्रभाव से आत्मविश्वास में वृद्धि होती है, यह नकारात्मक ऊर्जा को बाहर करती है, जिससे उदासी, चिडचिडापन, क्रोध, उलझने शीघ्र ही समाप्त होने लगती है।
व्यापार-व्यवसाय में घाटा हो रहा है तो सुलेमानी हकीक अंगूठी अवश्य धारण करें, इसके प्रभाव से व्यापार में कभी घाटा नहीं होगा तथा व्यापार-व्यवसाय में लाभ होगा।
सुलेमानी हकीक की अंगूठी धारण करने से सेहत में काफ़ी सुधार होगा।
————————————————————————————————-
सुलेमानी हकीक धारण करने के लाभ :
नौकरी या व्‍यवसाय में अगर परेशानी आ रही हो तो भी इस रत्‍न को धारण करना बहुत उचित रहता है।
यह विपत्‍ती और परेशानियों में आपको संभाले रखने का काम करता है।
आप चाहते हैं कि सामने वाला बस आपकी तारीफ के कसीदे पड़ता रहे तो इस पत्‍थर को धारण करने में बिल्‍कुल भी देरी न करें।
आपके घर में अशांति है और व्‍यापार में लगातार घाटा हो रहा है तो इसे अवश्‍य धारण करें।
इस सुलेमानी हकीक रत्न को धारण करने से शत्रुओं का समूल नाश हो जाता है।
अगर आप राहू केतु और शनि के दुष्‍प्रभावों से पीडि़त हैं तो सिर्फ सुलेमानी हकीक को धारण कीजिए, यह इन तीनों ग्रहों के अच्‍छे फल आपको देगा।
————————————————————————————————–
How to Wear Sulemani Hakik (Agate)?

This Sulemani Hakik (Agate) stone is to be worn in a silver ring in the middle finger on a Saturday.

यह रत्‍न शनि‍वार के दिन चांदी की अंगूठी में बीच अंगुली में धारण करते हैं। या इसे चांदी में लॉकेट में गले में भी धारण किया जा सकता है। इसे कोई भी व्‍यक्‍ति पहन सकता है।
——————————————————————————————————

Why buy from us:

सुलेमानी हकीक को अभिमंत्रित करना अत्‍यंत कठिन होता है इसलिए आपको अभिमंत्रित सुलेमानी हकीक ही लेना चाहिए।

For any further queries feel free to call +91-7065310431

इस अंगूठी को हमारे अनुभवी आचार्य मनु जी द्वारा शनि के मंत्रों द्वारा अभिमंत्रित करने के बाद आपके पास भेजा जाएगा ऐसा करने से आपको इस रत्न के शीघ्र ही शुभ फल मिल सके, इसके अलावा इस रत्न के साथ सर्टिफिकेट भी दिया जाएगा जो इस रत्न के ओरिजनल होने का प्रमाण है।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “सुलेमानी हकीक अंगूठी”

Your email address will not be published. Required fields are marked *