Sale!

31,500.00

This Rudraksha is very lovable to Lord Shiva. It is considered to be Lord Hanuman himself.

चौदह मुखी रुद्राक्ष भगवान शिव को सर्वप्रिय है। इसे हुनमान जी का स्‍वरूप माना जाता है। चौदह मुखी रुद्राक्ष 14 विद्या, 14 लोक, 14 मनु का साक्षात् रूप है।

Category:

This 14  Rudraksha is very lovable to Lord Shiva. It is considered to be Lord Hanuman himself.

चौदह मुखी रुद्राक्ष भगवान शिव को सर्वप्रिय है। इसे हुनमान जी का स्‍वरूप माना जाता है। चौदह मुखी रुद्राक्ष 14 विद्या, 14 लोक, 14 मनु का साक्षात् रूप है।
———————————————————————————————————————————————

Delivery: Within 5 – 7 Business Days (All over India)
Order on Call: +91-7065310431
Energization: Free Energizaton by Acharya ji( फ्री अभिमन्त्रण पंडित जी द्वारा)
——————————————————————————————————————————————–
Specification

Shape & Origin:
आकार एवं उत्‍पत्ति : Nepali Rudraksha (Round Shaped)
गोलाकार(नेपाली रूद्राक्ष)
Weight (Gm): ~3.0-5.0
Bead Size(mm): ~25×18.5
Certification: GJL&I, New Delhi
Metal: silver, चांदी (92.5 Purity )
Benefits of 14 Mukhi Rudraksha :
People affected due to blemishes of Saturn must wear this Rudraksha,
The wearer rests in Rudra loka after his demise,
One should wear it after reciting the mantras of Shiva
One is prevented from going to jail if he is wearing this Rudraksha
This is very useful for the treatment of paralysis

चौदहमुखी रुद्राक्ष के लाभ
चौदह मुखी रुद्राक्ष को धारण करने वाला व्‍यक्‍ति रुद्रलोक में वास करता है।
जो लोग शनि के दोष से पीडित हैं उन्‍हें भी चौदह मुखी रुद्राक्ष धारण करने से लाभ होगा।
हनुमान जी से संबंधित होने के कारण चौदह मुखी रुद्राक्ष धारण करने वाले व्‍यक्‍ति को हुनमान जी की भी विशेष कृपा मिलती है।
चौदह मुखी रुद्राक्ष को धारण करने वाले व्‍यक्‍ति को कभी भी जेल जाना नहीं पड़ता।
भगवान शिव भी चौदह मुखी रुद्राक्ष ही धारण करते हैं इसलिए इस रुद्राक्ष का अत्‍यंत महत्‍व है।
चौदह मुखी रुद्राक्ष पक्षाघात की चिकित्सा के लिए अत्यंत हितकारक है ।
———————————————————————————————————————————————————-
How to use 14 Mukhi Rudraksha:

Recite ‘ऊं नमः शिवाय’ while wearing this Rudraksha. Recite 5 malas of this mantra daily and you will see miraculous changes gradually in your life.

14 मुखी रुद्राक्ष की प्रयोग विधि

चौदह मुखी रुद्राक्ष धारण करते समय इस मंत्र का जाप करें ‘ऊं नमः शिवाय’

ध्‍यान रहे नियमित पांच माला का “ॐ नमः शिवाय” मंत्र का जाप करने से इसका प्रभाव कई गुना बढ़ जाता है।

हमसे क्‍यों लें

चौदहमुखी रुद्राक्ष को हमारे पंडितजी द्वारा अभिमंत्रित कर के आपके पास भेजा जाएगा जिससे आपको शीघ्र अति शीघ्र इसका पूर्ण लाभ मिल सके।

Reviews

There are no reviews yet.

Be the first to review “14 Mukhi Rudraksha (14 मुखी रुद्राक्ष)”

Your email address will not be published. Required fields are marked *